Home » राष्ट्रीय पर्यटन दिवस/ (National Tourism Day)

राष्ट्रीय पर्यटन दिवस/ (National Tourism Day)

हर साल 25 जनवरी को हमारे देश द्वारा राष्ट्रीय पर्यटन दिवस (National Tourism Day) के रूप में मनाया जाता है।

25 जनवरी का यह दिन पर्यटन के महत्व को उजागर करने के लिए मनाया जाता है। जिसके द्वारा भारत के बहुसंस्कृतिवाद , भारत की विविधता और भारत के विश्व पटल पर महत्व को बढ़ावा मिले और जिससे भारत की अर्थव्यवस्था पर सकारात्मक तौर पर प्रभाव पड़े


राष्ट्रीय पर्यटन दिवस का इतिहास

साल 1948 में भारत सरकार द्वारा पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए एक पर्यटक यातायात समिति का गठन किया गया था। इस समिति के गठन से पहले पर्यटन से सम्बंधित क्षेत्रीय कार्यालय दिल्ली और मुंबई में स्थापित किए गए थे।

गठन के तीन साल बाद, 1951 में, कोलकाता और चेन्नई में दो और कार्यालयों को जोड़ा गया ।

इसके बाद साल 1958 में पर्यटन और संचार मंत्रालय द्वारा पर्यटन से संबंधित एक विशेष विभाग की स्थापना करी गयी,जो संयुक्त सचिव के पद पर उप जनरल की अध्यक्षता में था।


राष्ट्रीय पर्यटन दिवस का महत्व

पर्यटन दिवस के दिन का महत्व बेहद सीधा और सरल है – देश में पर्यटन की प्रमुखता को उजागर करना जिससे भारत की आर्थिक संभावनाओं को बढ़ावा मिले

हमारे देश की मानव सभ्यता से लेकर अब तक एक ऐतिहासिक पृष्ठ्भूमि रही है जिस वजह से देश के प्रत्येक क्षेत्र से एक समृद्ध इतिहास जुड़ा हुआ है।
पर्यटन यह सब उजागर करने का सबसे अच्छा तरीका है। भारत को त्यौहारों का घर भी कहा जाता पूरे वर्ष भर यहाँ अलग – अलग जगहों पर अलग – अलग तरीको से इन त्यौहारों को मनाया जाता है पर्यटन को इन त्यौहारों से जोड़ने से विश्व में भारत की सांस्कृतिक छवि को बढ़ावा मिलता है

2019 की फिक्की-यस बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है कि पर्यटन उद्योग ने वर्ष 2018 में $ 247.3 बिलियन का उत्पादन किया। इसने देश के सकल घरेलू उत्पाद का 9.2% योगदान दिया है। पर्यटन मंत्रालय के आंकड़ों का कहना है कि 7.7% से अधिक भारतीय कर्मचारी पर्यटन उद्योग में काम करते हैं।


राष्ट्रीय पर्यटन दिवस 2021

हर साल की तरह इस साल भी 25 जनवरी का यह दिन राष्ट्रीय पर्यटन दिवस के रूप में मनाया जा रहा है
इस वर्ष की थीम है , ’देखो अपना देश’

21 जनवरी से 22 फरवरी तक पर्यटन मंत्रालय द्वारा थीम से संबंधित सेमिनार आयोजित किया जा रहा है ।

हालाँकि घातक कोरोनावायरस के कारण, COVID-19 के व्यापक प्रसार को रोकने के लिए देश में लगाए गए लॉकडाउन से इस बार पर्यटन पर गहरा प्रभाव पड़ा।

नोट: विश्व पर्यटन दिवस हर साल 27 सितंबर को मनाया जाता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.