Home » Uttarakhand ke pramukh bugyal – उत्तराखंड के प्रमुख बुग्याल Hindlogy

Uttarakhand ke pramukh bugyal – उत्तराखंड के प्रमुख बुग्याल Hindlogy

बुग्याल

Uttarakhand ke pramukh bugyal
उत्तराखंड के प्रमुख बुग्याल

Uttarakhand ke pramukh bugyal

बुग्याल किसे कहते हैं
Bugyal kise kahte hain

उत्तराखंड राज्य में हिमालयी क्षेत्रों में स्थित,
पर्वतों की तलहटी में 3,300 मीटर और 4,000 मीटर की ऊंचाई में अल्पाइन प्रकार चरागाह भूमि या घास के विस्तृत मैदान मिलते है,
इन घास के मैदानों को स्थानीय भाषा में “बुग्याल या पयार ” कहा जाता हैं,

इन बुग्यालों को “प्राकृतिक उद्यान ” की संज्ञा भी दी जाती है।
ये बुग्याल सपाट मैदानों के रूप में या फिर सपाट ढलान वाले होते हैं,
तथा यहाँ पर वहां पर बड़े वृक्षों का पूर्णत: आभाव रहता है।

बुग्याल उस क्षेत्र विशेष के लिए एक महत्वपूर्ण पारिस्थितिक तंत्र का निर्माण करते हैं, इसलिए इन बुग्यालों का संरक्षण आवश्यक है।

सर्दियों के मौसम में बुग्याल बर्फ से आच्छादित रहते हैं,
परन्तु गर्मियों में इन बुग्यालों की बर्फ पिघल जाती है,
जिससे ये बुग्याल गर्मियों के महीनों में सुंदर फूलों और घास से आच्छादित रहते हैं और चरागाहों का निर्माण करते हैं।

बुग्यालों को कश्मीर में “मर्ग “ बोला जाता है ,
तथा हिमांचल के कुल्लू में बुग्यालों “थच “ कहा जाता है

टिहरी जिले के प्रमुख बुग्याल
Bugyal of Tehri District

  • खतलिंग बुग्याल (Khataling Bugyal)
  • पंवाली कांठा बुग्याल (Panwali kantha Bugyal)
  • मासर ताल बुग्याल (Masar tal bugyal)
  • जौराई बुग्याल (Jourai Bugyal)

रुद्रप्रयाग जिले के प्रमुख बुग्याल
Bugyal of Rudraprayag District

  • चोपता बुग्याल (Chopta Bugyal)
    NOTE -चोपता बुग्याल, ” गढ़वाल का स्विट्जरलैण्ड” के नाम से भी जाना जाता है
  • बर्मी बुग्याल (Burmese Bugyal)
  • कासनी खर्क बुग्याल (Chicory khar bugyal)
  • मदमहेश्वर बुग्याल (Madmaheshwar bugyal)

उत्तरकाशी जिले के प्रमुख बुग्याल
Bugyal of Uttarkashi district

  • केदार खर्क बुग्याल (Kedar Khark Bugyal)
  • चाईसिल बुग्याल (Chaisil Bugyal)
  • ताल बुग्याल (Tal Bugyal)
  • सोनागाड़ बुग्याल (Sonagad Bugyal)
  • तपोवन बुग्याल (Tapovan Bugyal)
  • बरनाला बुग्याल (Barnala Bugyal)
  • देवदामिनी बुग्याल (Devadamini Bugyal)
  • दयारा बुग्याल (Dayara Bugyal)
  • कुश कल्याण बुग्याल (Kush Kalyan Bugyal)
  • हर की दून बुग्याल (Har ki Doon Bugyal)

पिथौरागढ़ जिले के प्रमुख बुग्याल
Bugyal of Pithoragarh district

  • छिपलाकेदार बुग्याल (chiplakedar Bugyal)
  • खलिया बुग्याल (Khalia Bugyal)
  • थाला बुग्याल (Thala Bugyal)
  • जोहार बुग्याल (Johar Bugyal)
  • राहाली बुग्याल (Rahali Bugyal)
  • पिंडारी बुग्याल (Pindari Bugyal)
  • नामिक बुग्याल (Namik Bugyal)
  • थाल बुग्याल (Thal Bugyal )

चमोली जिले में स्थित प्रमुख बुग्याल
Bugyal located in Chamoli district

  • बेदनी बुग्याल ( Bedni Bugyal )
    (रुपकुण्ड मार्ग पर, चमोली जिले में )

Note – बेदनी बुग्याल चमोली जिले में स्थित उत्तराखंड राज्य का सबसे बड़ा बुग्याल है
इस बुग्याल को वेदों की रचना का स्थल माना जाता है मखमली घास के लिए यह बुग्याल प्रसिद्ध है

 

  • फूलों की घाटी (Valley of Flowers)
    (जोशीमठ – बद्रीनाथ मार्ग पर चमोली जिले में )

Note – फूलों की घाटी की खोज सन 1931 में एक ब्रिटिश पर्वतारोही फ्रैंक सिडनी स्माइथ ने की थी,
फ्रैंक ने अपने साथी गोल्ड वर्क की सहायता से फूलों की 250 किस्मों का पता लगाकर 1947 में अपनी पुस्तक फूलों की घाटी को प्रकाशित किया था।वर्ष 2005 में , फूलों की घाटी को विश्व धरोहर में शामिल किया गया। 

 

  • ओली Oli
    (जोशीमठ के पास, चमोली जिले में )

Note – औली उत्तराखंड के चमोली जिले में जोशीमठ से 15 किलोमीटर की दूरी पर शीतकालीन खेलों ,स्कीइंग आदि के लिए प्रसिद्ध क्षेत्र है

चमोली जिले का अन्य बुग्याल

  • रुद्रनाथ (Rudranath )
    (गोपेश्वर के ऊपरी तरफ, चमोली जिले में )
  • नन्दकानन (Nandakanan)
    (फूलों की घाटी के ऊपर, चमोली जिले में )
  • रताकोण बुग्याल (Ratakon Bugyal)
  • मनणी बुग्याल (Manani Bugyal)
  • चोमासी बुग्याल (Chomasi Bugyal)
  • कल्पनाथ बुग्याल (Kalpnath Bugyal)
  • बेदशीला समुद्र बुग्याल (Bedsheela samudra Bugyal)
  • पन्नार बुग्याल (Pannar Bugyal)
  • पुंग बुग्याल (Pung Bugyal)
  • दुणया बुग्याल (Dunya Bugyal)
  • संतोपंथ बुग्याल (Santopanth Bugyal)
    (माणा गांव के उत्तर में , चमोली जिले में )
  • दूधा तोली बुग्याल (Dudha Toli Bugyal)
    (चमोली व पौड़ी के बीच )
  • अवनी खर्क बुग्याल (Avni Khark Bugyal)
    (थराली के ऊपर, चमोली जिले में )
  • आली बुग्याल (Aali Bugyal)
    (बेदनी के पास, चमोली जिले में )
  • गुरसो बुग्याल (Gurso Bugyal)
    (औली के पास, चमोली जिले में )
  • कैला बुग्याल (Kaila Bugyal)
    (बद्रीनाथ के पास, चमोली जिले में )
  • क्वारी बुग्याल (Quari Bugyal)
    (गोरसों बुग्याल के पास, चमोली जिले में )
  • बागची बुग्याल (Bagchi Bugyal)
    (बागेश्वर–चमोली मार्ग में )
  • रुपकुण्ड बुग्याल (Rupkund Bugya)
    (वेदनी मार्ग पर, चमोली जिले में )
  • लक्ष्मीवन बुग्याल (Laxmivan Bugyal)
  • जलीसेरा बुग्याल (Jalisera Bugyal)
  • घसतौली बुग्याल (Ghastauli Bugyal)
  • पाण्डुसेरा बुग्याल (Pandusera Bugyal)
  • पातर नौचेणिया बुग्याल (Patar Nauchniya Bugyal)
    (रूपकुण्ड मार्ग पर, चमोली जिले में )
  • मनपे बुग्याल (Manpe Bugyal)
  • हुण्या बुग्याल (Hunya Bugyal)
  • धामण सैंण बुग्याल (Dhaman Sain Bugyal)
  • अन्वाल लेडी बुग्याल (Anwal Lady Bugyal )
  • सुंठग बुग्याल (Suthang Bugyal )
  • डागा रर्व बुग्याल (Daga Rerv Bugyal )

Uttarakhand ke pramukh bugyal

Leave a Reply

Your email address will not be published.